आरज़ू

rss feed

प्यास बुझती नहीं

मैंने अब्बु का लण्ड मुँह में ले लिया और भैया पीछे से मेरी गाण्ड पर लण्ड रगड़ते हुए अन्दर डालने की कोशिश करने लगे। मैंने कहा- अब्बु, मैं ब्ल्यू फ़िल्म वाली लड़की की तरह पांच जनों से एक साथ चुदाना चाहती हूँ। अब्बा ने कहा- बेटी, तू नहीं झेल पायेगी एक साथ पांच को।

अब्बु और भाई- 2

मैं अब्बु के कन्धे पर अपने दोनो पैर लपेटे उनका लण्ड चूस रही थी और अब्बु मेरी चूत को चूस रहे थे और वही किनारे मेरा भैया अपने लण्ड को हाथ में लेकर खड़ा था तब अब्बु ने मुझे नीचे लेटा दीया और भैया से कहा आओ बेटे आज साली कि चूत कि दोनों मिलकर धज्जीयाँ उड़ा देते है

अब्बु और भाई-1

अब्बु ने कहा- बेटी, अब तुम अपना सर नीचे कि तरफ़ झुकाओ। पर मैंने मना कर दिया इस पर वो एक चपत लगाते हुए बोले- साली जैसा कहता हूं कर वरना आज दोनो जने एक साथ तेरी गाण्ड में लण्ड डाल कर फ़ाड़ देगें।

मोटा लंड नंगा बदन

रात को उन्होंने अपने कमरे में नजीम को बुलवा लिया और मेरे सारे कपड़े उन्होंने खुद ही अपने हाथ से उतारे और नजीम से बोली - राजा आज तुझे मेरी ननद की चूत की प्यास भी बुझानी है, चल जल्दी से मैदान में आ जा और अपना लण्ड ठोक दे इसकी चूत में ।

Scroll To Top