मेरा दूसरा खुशनसीब दिन

मैडम ने पूरी क्लास के सामने अपना हाथ मेरी पैन्ट के ऊपर से लिंग पर रख दिया और सहलाने लगी। उसके हाथों के स्पर्श मात्र से ही मेरा लिंग जवाब दे दिया और खड़ा होकर ठुमके लगाने लगा।

अपनी सगी भाभी को पटा कर चोदा

भाभी देवर की कहानियां पढ़ कर मेरा ध्यान धीरे धीरे अपनी भाभी की तरफ आकर्षित होने लगा और मैं भाभी को पटाने की कोशिश करने लगा. फिर मैंने कुछ करने की सोची ताकि मैं भाभी के मजे ले सकूं.

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-2

वो सेक्सी मर्द टांगें चौड़ी करके पेशाब कर रहा था, उसका एक हाथ पीछे कमर था और दूसरा नीचे लंड की तरफ। मैं उसके बगल वाले पॉट पर जाकर मूतने की एक्टिंग करते हुए उसके लंड को देखने की कोशिश करने लगा।

बदले की आग-1

लड़की को यहाँ इस दुनिया में लगभग सभी देशों में एक वस्तु माना जाता है. जिसका काम अपनी चूत से लंडों की सेवा करना है. यही सोच रख कर आम तौर पर लोग अपना जीवन गुजारते हैं.

मेरी छात्रा की पहली चुदाई

मैं ट्यूशन इंस्टिट्यूट में मैथ पढ़ाने लगा. चार स्टूडेंट्स थे पर अपनी एक स्टूडेंट दीक्षा को देखते ही मैं उस पर फिदा हो गया था। पहले ही दिन से मैं उसे चोदने के सपने देखने लगा था। कहानी का मजा लें!

वो दिन भी बहुत खुशनसीब था

मिस पूजा… एक ऐसी नारी, जो लड़कों के हर कल्पना से कहीं अधिक खूबसूरत थी किसी सिने अदाकारा जैसी चंचल और सुंदर… वो मेरे स्कूल में शिक्षिका थी. मेरा लिंग पूजा मिस को देख उत्तेजित हो जाता था।

अनजान लड़के के साथ सेक्स

मैंने फेसबुक पर आईडी बनाई तो मुझे एक लड़के की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई. जोश में मैंने उसे दोस्त बना लिया. जल्दी ही उसने बताया कि वो मुझसे सेक्स करना चाहता है और वो मुझसे मिलने के लिए बोलने लगा.

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-1

रोज़ कईयों के लंड को सहलाकर आता था। कोई हाथ हटवा लेता तो किसी का खड़ा हो जाता। वो भी मज़े ले लेता। मेरी गांड को दबाने लगता, कंधों को सहलाते हुए मेरी निप्पल्स को टटोलने की कोशिश करता, मुझे भी अच्छा लगता था।

मस्त गांड वाली बहन की चुत चुदाई

एक दिन मैं घर में अपनी गर्लफ्रेंड को चोद रहा था कि मेरी बहन आ गई और… उसके बाद मैंने अपनी उसी बहन को चोदा.. कैसे? पढ़ें मेरी सेक्स कहानी भाई बहन की चुदाई की!

मामा की बेटी को बारिश में गर्म करके चोदा

मैं अपनी मामी को चोद चुका था, अब मेरी नजर उनकी युवा बेटी पर थी. इस बार जब मैं मामा के घर गया तो मैंने अपनी बहन को चोदा. कैसे? पढ़ें मेरी सेक्स स्टोरी में!

आंटी ने मुझे कॉल बॉय बनाया

मैं सड़क किनारे ऑटो का इन्तजार कर रहा था कि एक कार रूकी, कार में आंटी थी. वो मुझे लिफ्ट देने के बहाने से अपने साथ अपने घर ले गयी और बस… कहानी पढ़ कर पता लगाएं कि आगे क्या हुआ!

बीवी को गैर मर्द के नीचे देखने की चाहत

अधिकतर पुरुषों को दूसरे की बीवी को देख कर तो जोश बहुत आता है लेकिन जब उनकी खुद की बीवी की बात करो तो सांप सूंघ जाता है, ऐसा नहीं होना चाहिये. बीवियों को भी हक़ है, उन्हें भी अधिकार है खुल के मजे लेने का!

दोस्त की बहन की शादी से पहले सीलतोड़ चुदाई

दोस्तो, मेरा नाम अगम है (बदला हुआ नाम). मैं 12 वीं क्लास में पढ़ता हूँ. मेरा एक दोस्त है, उसका नाम हर्ष है. उसकी एक बहन है, जो ग्रेजुयेशन कर… [Continue Reading]

क्लासमेट लड़की की कुंवारी चुत को चोदा

मेरे पड़ोस में रहने वाली एक युवा लड़की मेरी क्लासमेट थी. हम साथ साथ रहते थे. मेरी कोई गलत भावना नहीं थी उसके प्रति… लेकिन उसके मन में क्या था, मुझे नहीं पता था. वो मुझसे कैसे चुद गई?

गुजराती आंटी को पटा कर चोदा

एक गुजराती आंटी मेरी पड़ोसन हैं, आंटी की गांड बहुत बड़ी है और बहुत नशीली भी. मैं आंटी के पीछे बहुत वक्त से लगा हुआ था और उन पर कुत्ते की तरह नजर रखता था कि कब तो मुझे मिले चांस उसे चोदने के लिए…

नौकर के बेटे की वासना भरी निगाहें-2

मेरे नौकर का बेटा हमारे घर भी आ जाता था. एक दिन मैंने देखा कि वो मुझे घूरता रहता है, मेरे छोटे कपड़ों में से दिख रहे मेरे नंगे बदन को ताड़ता रहता है. मुझे भी मजा लेने की सूझी और मैंने अपना खेल शुरू कर दिया.

गर्लफ्रेंड की चुदाई दास्तान

कोचिंग में मेरी मुलाक़ात एक लड़की से हुई, उसके दूध बहुत बड़े बड़े थे। बस मेरा मन केवल उसकी चूत चुदाई के लिए उतावला था. मैंने उसे कैसे पटाया और फिर चोदा उस कॉलेज गर्ल को… पढ़ें मेरी सेक्स स्टोरी में!

चाची की गांड चुदाई: पारिवारिक चुदाई की कहानी-5

मेरे जेठ के बेटा अपने मुँह को मेरी चूत से हटाते हुए मेरी गांड के पास लाया और अपने थूक से मेरी गांड को गीला करना शुरू कर दिया। मैं समझ गयी कि अब आगे क्या होगा।

कमसिन जवानी का वो खेल

कभी कभी आपके हमारे जीवन में ऐसी घटनाएं घट जाती हैं जिनको हम कभी भुला नहीं पाते। कुछ ऐसा ही एक वाकया मेरी जिंदगी के साथ भी जुड़ा हुआ है जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता.

शबाना चुद गई ट्रेन के बाथरूम में

नैनीताल से दिल्ली ट्रेन से आते समय एक लड़की मेरे साथ बैठी. रात का समय था, सब सो रहे थे लेकिन मैं उस सेक्सी माल को देखे जा रहा था. हिम्मत करके मैंने उसकी चूची को छू दिया. फिर क्या हुआ?