Sex Stories Archive for June, 2008

बहन का नग्नतावाद से परिचय-3

On 2008-06-30 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

प्रेषक : आसज़ मैंने कहा,”तुम कपड़े बदल आओ, मैं बरामदे में बैठ कर एक बीयर लेता हूँ ! और हाँ ! जब तुम तैयार हो कर बाहर आओगी तब तक मैं नग्न हो चुका हूँगा ! अब जैसे तुम ठीक समझो !” उसने अपने को शान्त दिखाते हुए कहा,”धन्यवाद टिम !” वह बेडरूम में चली […]

बहन का नग्नतावाद से परिचय-2

On 2008-06-29 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

प्रेषक : आसज़ “देखो, आपने पक्का फ़ैसला कर लिया है? मेरा मतलब है अगर तुम आओ तो मुझे बिल्कुल आपत्ति नहीं है, लेकिन यह एक नग्न रीसोर्ट है, और हम सभी पूरे सप्ताह नग्न ही रहेंगे !” “तुम नंगे रहोगे, मैं नहीं ! वेबसाइट पर स्पष्ट रूप से कपड़ों का विकल्प बताया है। तो मैं […]

बहन का नग्नतावाद से परिचय-1

On 2008-06-28 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

प्रेषक : आसज़ मित्रो, अभी कुछ दिन पहले मैं ऑफ़िस से छुट्टी लेकर परिवार के साथ दक्षिण भारत की यात्रा पर गया था। हम लोगों ने सीधे त्रिवेन्द्रम के लिये राजधानी एक्सप्रेस में रिजर्वेशन लिया था। वहाँ से आस पास और फिर कन्याकुमारी आदि स्थानों पर घूम कर पोन्दिचेरी होकर वापस आना था। वहाँ त्रिवेन्द्रम […]

नये अनुभव का सुख-1

मेरे पति टूर पर ज्यादा रहते हैं इसलिये मैं सेक्स के लिये परेशान रहती हूँ। मैंने अपनी एक सहेली बना रखी है, म पति के टूर पर जाने पर उसके साथ मैं दिन-रात खूब मस्ती करती हूँ।

भूल जा सब रिश्ते : माँ की चुदाई

नमस्कार साथियो, मैंने अन्तर्वासना पर बहुत कहानियाँ पढ़ी हैं. यह मेरी पहली कहानी है. उम्मीद है कि आपको पसंद आएगी. मैं अपने दोस्तों से ब्लू फिल्मों की सीडी लाकर घर पर देखता था. मेरा हाल बहुत बुरा होता था. लण्ड को बार बार मसलता रहता था. मेरा लंड दर्द करने लगता था. मन करता था […]

भाभी की तन्हाई और मेरा सपना -1

On 2008-06-25 Category: पड़ोसी Tags:

प्रेषक : रिंकू गुप्ता प्रिय पाठको, सबसे पहले आप सबको मेरा नमस्कार ! मेरा नाम रिंकू गुप्ता है, उम्र 24 साल है और मैं एक सॉफ्टवेयर इंजिनियर हूँ, दिल्ली में रहता हूँ ! यह कहानी जो मैं आप सभी लोगों से कहने जा रहा हूँ, पूरी तरह सच्ची घटना है और उम्मीद करता हूँ आप […]

मेरी बीवी की पहली चुदाई

विनोद अफ़सोस जताने लगा- ओह ! तुम्हें चोट लगी ! यह तो बेशकीमती खजाना है। आखिर तुम्हारा पति क्या सोचेगा? कहीं इस पर दाग ना पड़ जाये ! तुम अपने बच्चों को दुधू कैसे पिलाओगी?

आठ साल बाद मिला चाची से

On 2008-06-24 Category: चाची की चुदाई Tags:

सारे दोस्तों को मेरा नमस्कार… पहले मैं आपके मेरे बारे में बता दूं, मैं 26 वर्ष का हूँ, इंदौर में एक सॉफ्टवेयर कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजिनियर के तौर पर काम करता हूँ। मेरी एक बहुत ही सुन्दर बीवी और एक प्यारी सी बेटी है। यह मेरी पहली कहानी है, जो कहानी मैं लिखने जा रहा […]

चचेरे भाई पे मेरा बेईमान दिल

On 2008-06-22 Category: भाई बहन Tags:

लेखिका : मोनिषा बसु दोस्तो, आज मैं अपने जीवन की एक और मीठी याद आप के साथ बाँट रही हूँ। मैं अपने कॉलेज के जमाने से ही बहुत स्पष्ट और बेबाक लड़की थी, अपनी पढ़ाई पूरी करते-करते तीन लड़कों से सम्बन्ध बना चुकी थी। लड़के-लड़कियों की चुदाई की व्यस्क कहानियाँ पढ़ना, ब्ल्यू फ़िल्में देखना मेरे […]

बड़े मियां तो बड़े मियां, छोटे मियां भी……-2

On 2008-06-21 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

प्रेषक : पप्पू राम हम दोनों घबरा गए, मै झट से कपड़े ठीक करके उसकी तरफ़ लपकी और उससे विनती करने लगी,”सन्जू रुक ! हम तो ऐसे ही खेल रहे थे, प्लीज, पापा से कुछ मत कहना, तू जो कहेगा, जो माँगेगा वो तुझे दूँगी, प्लीज रुक जा।” निक्कू भी उससे विनती करने लगा। सन्जू,”एक […]

बड़े मियां तो बड़े मियां, छोटे मियां भी……-1

On 2008-06-20 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

प्रेषक : पप्पू राम हेल्लो दोस्तो, मेरा नाम सिमरन है। यह मेरे जीवन की वास्तविक कहानी है इसलिये इसे जरूर जरूर पढ़ें और अपने विचार भेज कर मेरी हौंसला-अफ़्जाई करें। प्यार से मुझे सिम्मू कहते हैं। मेरी उम्र सिर्फ़ 20 साल है लेकिन मेरे गदराये हुए जिस्म कि वजह से मैं भरपूर जवान लगती हूँ। […]

एक दूनी दो-2

On 2008-06-19 Category: गुरु घण्टाल Tags: गांड

मैंने अपने एक हाथ से उसके नितम्ब को चौड़ा किये रखा और दूसरे हाथ से अपने लण्ड को पकड़ कर गाण्ड के छेद पर लगाया और फिर से होले से धक्का लगाया।

एक दूनी दो-1

मास्टरनी की चुदाई के दौरान एक बार मैंने उसकी गाण्ड के छेद से भी छेड़खानी कर डाली थी तो उसने मुझे कहा था कि अभी मैं इस छेद को ना छेड़ूँ, बाद में वह मुझे इसका मज़ा भी देगी।

कैसी कटी रात?

On 2008-06-17 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

प्रेषक : वसीम मैं भी अन्तर्वासना के लाखों चाहने वालों में से एक हूँ। मैंने यहाँ सारी कहानियाँ पढ़ी हैं, हर कहानी को पढ़ने के बाद में अपने लंड से पानी जरूर निकालता हूँ। ये मेरी पहली सेक्स कहानी है जो आज आप लोगो के सामने बताने जा रहा हूँ, यह पूर्णतया सत्य है, यह […]

कामिनी की बाहों में-2

कामिनी मेरे चूतड़ दबा रही थी और अचानक उसकी ज़बान मेरी चूत के छेद में घुस पड़ी तो ऐसा लगा जैसे गरम पिघलता हुआ लोहा मेरी चूत में घुस गया हो, मैं चिल्ला पड़ी.

नंगी देखा किसी और को चोदा कटरीना को-1

On 2008-06-14 Category: जवान लड़की Tags:

वो बोले जा रहे थी, मैंने ध्यान से सुना, वो कह रही थी- मेरी लो! और आहें भर रही थी। मुझे लगा कि शायद उसने शराब पी रखी है। मैंने उसको ब्रा पहनाई।

मुंबई में आकर

On 2008-06-13 Category: पड़ोसी Tags:

प्रेषिका : स्नेहल प्यारे पाठको, मेरी तरफ से आप सभी को मेरी मीठी बुर का सलाम ! मैं रूपा, मेरी यह पहली कहानी है। आप सब ध्यान से दिल थाम कर और लण्ड पकड़ कर पढ़िए। मैं गाँव से मैट्रिक पास करने के बाद मुंबई अपने चाचा के पास आगे पढ़ाई के लिए आ गई […]

पंखी पता नहीं बताते-2

On 2008-06-12 Category: कोई मिल गया Tags:

प्रेषक : शकील फ़िरोज़ मैंने धीरे धीरे करके टीशर्ट और हाफपैंट खोल दिए। वो साली काली ब्रेज़ियर और काली पैंटी पहने थी। गोरा बदन और ये काले कपड़े ! साली मस्त लग रही थी। मौका पाकर रुक्कू ने उसके गेंदों की बाजी उसके हाथ में ले ली। मैंने शब्बो को पलंग पर लिटा दिया और […]

पंखी पता नहीं बताते-1 HOT!

On 2008-06-11 Category: कोई मिल गया Tags:

प्रेषक : शकील फ़िरोज़ दोस्तो, मेरा नाम शकील है। मैं एक बार ट्रेन में मुंबई का सफ़र कर रहा था, वैसे भीड़ तो न थी और ट्रेन खाली थी। ट्रेन रुकते ही एक आदमी गुजरात के आनंद से चढ़ा, आकर मेरी बगल में जगह थी तो बैठ गया। थोड़ी देर बाद उसने मेरे बारे में […]

Scroll To Top