Sex Stories Archive for January, 2006

शादीशुदा आंटी की कुँवारी बुर

हैलो दोस्तो ! यह मेरी पहली कहानी है। यहां पर मैं अन्य लेखकों की तरह यह बिल्कुल नहीं कहूँगा कि यह मेरी सच्ची कहानी है। बल्कि मैं यह कह रहा हूँ कि यह मेरी काल्पनिक कथा है जो कि सिर्फ मनोरंजन के लिए है, इसलिए इसे कुछ और न समझें। मेरा नाम राजीव कुमार है। […]

अक्षिता की अधूरी प्यास

उसकी नजरें मेरे उठे हुये पेटीकोट और मेरी चिकनी शेव की हुई चूत पर पड़ी। एक बार जो नजरें टिकी तो वहीं पर चिपक गई। यह देख कर मैंने अपना थोड़ा सा पांव और खोल दिया

भाभी बनी सेक्स गुरु

अचानक से उनके बाथरूम का दरवाज़ा खुला और मैं सकपका गया। वो बिल्कुल गीले बदन नहाई हुई मेरे सामने खड़ी थी और बदन पर सिर्फ एक झीने से कपड़े की चुन्नी थी।

गाण्ड मारने की विधि

अगर आप सचमुच में गाण्ड मारना चाहते हो और आप चाहते हो कि लड़की को भी उतना ही मज़ा आए जितना आपको आता है और वो बार बार आपसे गाण्ड मरवाने की चाहत रखे तो आपको मैं सही विधि बताता हूँ। ध्यान से पढ़िए आपकी मनोकामना पूरी होगी…

मस्ती पूरे जोर पर थी

On 2006-01-27 Category: चुदाई की कहानी Tags:

प्रेषक : कामुक इन्सान दोस्तो, मैं २४ साल का कॉलेज में पढ़ने वाला छात्र हूँ। यह बात उन दिनों की है जब मैं स्कूल में हुआ करता था। मेरी दोस्ती एक लड़की से हुई, उसका नाम जया था। मैं अक्सर पढ़ाई में व्यस्त रहता था, वो मुझे गौर से देखती थी। फिर हमारी नज़रें चार […]

हाय रे तंग जवानी

On 2006-01-26 Category: चुदाई की कहानी Tags:

प्रेषक : राजेश मिश्रा हेलो दोस्तों मेरा नाम राजेश है और मैं रीवा का रहने वाला हूं। मैं आप सभी को एक ऐसी कहानी सुनाने जा रहा हूं जिसे सुनते ही नौजवान लडकों को मुठ मारना पड़ सकता है और यदि शादीशुदा हैं तो अपनी पत्नी की चूत भी फाड़ सकते हैं, कुंआरी लडकियों को […]

संगीत शिक्षक से चुदवाया-2

सबसे पहले गुरुजी को मेरी तरफ से बहुत बहुत धन्यवाद, जिन्होंने मेरी चुदाई सबके सामने रखी। उसके बाद सभी पाठकों को भी मेरी तरफ से प्रणाम ! मुझे बहुत प्यार मिला। जैसे कि मैंने बताया था कि किस तरह से मैंने अपने संगीत के शिक्षक से म्यूज़िक हॉल में चुदाई का मज़ा लिया था और […]

मोटा लण्ड कुंवारी चूत में कैसे जायेगा

उसके शर्ट का एक बटन टूटा हुआ था, उसका ध्यान पढ़ाई में था और मेरा ध्यान उसके टूटे हुए बटन के पीछे उसके बूब्स पर था, उसकी काली ब्रा और गोरे बूब्स मेरे सामने दिख रहे थे। अचानक उसका ध्यान अपने टूटे हुए बटन पर गया

अपनी मौसी को ही चोद !

महबूब बाशा हेल्लो दोस्तो, कैसे हो आप ! मैं आपका प्यारा मेजस्टी, जिसकी कहानियाँ आप सब बहुत पसंद करते हैं। शायद इसलिये कि मेरी कहानियों में ज्यादातर लड़की या औरत मेरी करीबी होती है, जैसे मम्मी, बुआ या छोटी बहन। बहन से याद आया कि मेरी कहानी ¨छोटी बहन के साथ¨ को पसंद करने के […]

उसे एक पुरूष की जरूरत थी

On 2006-01-22 Category: पड़ोसी Tags:

प्रेषक : इन्द्र पाल हेल्लो दोस्तो, मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ। यहाँ कहानियाँ पढ़ने के बाद मुझे लगा कि मुझे भी अपनी यौन-क्रीड़ा के बारे में आपको बताना चाहिए, जिसे पढ़ते हुए लड़के मुठ मारने लगेंगे और लड़कियों, भाभियों और आन्टियों को लण्ड की प्यास लग जाएगी। दोस्तो, मैंने कई कहानियाँ पढ़ी हैं। एक […]

तरस गई हूँ

On 2006-01-20 Category: पड़ोसी Tags:

प्रेषक : रायपुर बॉय मेरा नाम विजय है! मैं रायपुर शहर में रहता हूँ, 22 साल का इन्जिनियरिन्ग का छात्र हूँ। मैं जिस मकान में रहता हूँ वहां नीचे में मकान मालकिन रह्ती है। वो नौकरी करती है, उसका पति भी नौकरी करता है । उनका एक लड़का भी है वो स्कूल जाता है। मैं […]

आज मुझे मत रोकना

On 2006-01-19 Category: गुरु घण्टाल Tags:

दोस्तो, मेरा नाम मोहित पाटनी है, मैं अजमेर का रहने वाला हूँ और मेरी उम्र २० साल की है। मैं अन्तर्वासना का एक महीने से पाठक हूँ। अब मैं आपको अपने जीवन की एक सच्ची कहानी बताने जा रहा हूँ। बात उन दिनों की है जब मैं १२वीं में था। मेरे एक्साम होने वाले थे […]

जोर लगा के पेलो

On 2006-01-18 Category: कोई मिल गया Tags:

प्रेषक : गपागप मैं एक नए शहर में जब अकेले घूमने निकला तो मैं चलते चलते एक वेश्याओं की गली में पहुंच गया। मैंने देखा कि बहुत सी लड़कियाँ छोटे छोटे मकानों के सामने खड़ी थी। मैंने समझा कि सभी किसी त्यौहार की तैयारी करके कहीं जाने की तैयारी कर जा रहे होंगी। सभी सजे […]

सपने में मज़ा

On 2006-01-17 Category: चुदाई की कहानी Tags:

प्रेषक : गपागप मैं और मेरा एक मित्र एक साथ रहते थे। हम दोनों बहुत घनिष्ट मित्र थे। मेरे मित्र की एक गर्ल फ्रेंड थी। वो आए दिन अपनी और अपनी गर्लफ्रेंड के किस्से सुनाता रहता था। तब एक दिन हम तीन दोस्तों को साथ में ले के एक प्लान बनाया कि अब बहुत कहानियाँ […]

पढ़ाई में चुदाई

प्रेषक : गपागप मेरी क्लास में रूबी नाम की एक लड़की थी, मैं उससे बहुत प्यार करता था। हमारी जान पहचान इस प्रकार हुई : एक दिन जब हम ट्यूशन पढ़ रहे थे तो उस दिन सर जी नहीं आएगे यह बात सब को पता थी लेकिन रूबी का घर दूर होने के कारण उसे […]

गर्मी की वह रात

On 2006-01-15 Category: पड़ोसी Tags:

प्रेषक : ऋतेश कुमार मित्रो, अंतर्वासना के लिए यह मेरी पहली कहानी है। यूं तो मैं अंतर्वासना की कहानियों को पिछले दो सालों से पढ़ रहा हूं। बहुत समय तक सोचने के बाद आज मैं अपनी एक सच्‍ची कहानी आप सब के साथ शेयर करना चाहता हूं। यद्यपि इस वाकये को दस बरस का लंबा […]

मीरा दीदी की गाण्ड चुदाई

On 2006-01-14 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

प्रेषक : राजेश अय्यर आज तक मैं अन्तरवासना पर यही पढ़ते आया हूँ कि दोस्तों मैं अगली कहानी लेकर हाजिर हूँ। इसका मतलब पाठक काल्पनिक कहानी भी भेजते हैं। परन्तु मेरे पास ऐसी काल्पनिक नहीं अपितु सत्य घटना है जो मेरे साथ घटी है। बात कुछ साल पहले की है मेरे एक दूर के रिश्ते […]

स्वर्ग का अनुभव-३

On 2006-01-13 Category: कोई मिल गया Tags:

प्रेषक : उमेश सबसे पहले तो मैं गुरूजी का आभार मानता हूँ कि उन्होंने मेरी सही अनुभव वाली दो कहानियाँ ‘स्वर्ग का अनुभव-१’ और ‘स्वर्ग का अनुभव-२’ प्रस्तुत की ! इस कहानी में मेरी कोई कल्पना नहीं है इसलिए जिसको काल्पनिक कहानी में ही मजा आता हो वो यह कहानी नहीं पढ़े ! मेरी पहली […]

प्रगति की आत्मकथा -4

On 2006-01-12 Category: ऑफिस सेक्स Tags:

प्रेषिका : शोभा मुरली उसने बलराम के सुपारे पर थोड़ी और जेली लगाई और एक-दो-तीन कह कर फिर से कोशिश की। इस बार बलराम करीब आधा इंच अन्दर चला गया। प्रगति के मुँह से एक हलकी सी आवाज़ निकली। शेखर ने एकदम बलराम को बाहर निकाल कर प्रगति से पूछा कि कैसा लगा? दर्द बहुत […]

प्रगति की आत्मकथा -3

On 2006-01-11 Category: ऑफिस सेक्स Tags:

प्रेषिका : शोभा मुरली शेखर अब अगले शुक्रवार की तैयारी में जुट गया। वह चाहता था कि अगली बार जब वह प्रगति के साथ हो तो वह अपनी सबसे पुरानी और तीव्र इच्छा को पूरा कर पाए। उसकी इच्छा थी गांड मारने की। वह बहुत सालों से इसकी कोशिश कर रहा था पर किसी कारण […]

Scroll To Top